लिव लव लाफ...

अवसाद के खिलाफ लड़ाई

द लिव लव लाफ फाउंडेशन का उद्देश्य मानसिक स्वास्थ्य को देखने के तरीके को बदलना, कलंक को कम करना और जागरूकता फैलाना है। यह एक ऐसा मंच है जहां आप अपने लिए या किसी प्रियजन के लिए मदद ढूंढ सकते हैं, व्यापक ज्ञान प्राप्त कर सकते हैं, पेशेवरों से जुड़ सकते हैं, और यह जानकर राहत महसूस कर सकते हैं कि ऐसे आप अकेले नहीं हैं।
मानसिक स्वास्थ्य को समझें

हेल्पलाइन

सूचीबद्ध तरीके से दी गई हेल्पलाइन्स जरुरतमंद लोगों को मुफ्त फोन परामर्श प्रदान करती हैं। यह सेवा संकटग्रस्त व्यक्तियों और परिवारों को सहायता प्रदान करती है; विशेषकर, अगर व्यक्ति अकेला, अलग-थलग, दुखी, भयभीत, चिंतित महसूस करता हो, सदमे में हो या आत्मघाती विचार मन में रखता हो।
सहायता लें

चिकित्सक को खोजें

इस सेवा का उपयोग करें यदि आप अपने मानसिक स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं या परिवार के किसी सदस्य या दोस्त के लिए पेशेवर मार्गदर्शन और सहायता की तलाश में हैं।
चिकित्सक को ढूंढें

कार्यक्रम

भारत में मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता पैदा करने के लिए समर्पित, द लिव लव लाफ फाउंडेशन ने मानसिक स्वास्थ्य पर विभिन्न कार्यक्रमों की शुरुआत की है। यहां इन कार्यक्रमों में भाग लेने के तरीकों के बारे में जानकारी और विवरण तलाशें।
स्कूल प्रोग्राम्सजीपी कार्यक्रम

टीएलएलएलएफ

द लिव लव लाफ फाउंडेशन (टीएलएलएलएफ) भारत में मानसिक स्वास्थ्य कारणों के बचाव की तलाश करता है, विशेष रूप से अवसाद पर ध्यान देते हुए। जागरूकता फैलाने के अलावा, इसका उद्देश्य विभिन्न आधारभूत गतिविधियों का समर्थन करना भी है – जैसे साधारण चिकित्सकों का प्रशिक्षण, आसान पहुंच के लिए मानसिक स्वास्थ्य पेशेवरों का एक राष्ट्रीय डेटाबेस बनाना, वास्तविक स्वास्थ्य देखभाल पेशेवरों की हेल्पलाइन विकसित करना, मुहिम को आगे बढ़ाने के लिए अन्य संगठनों एवं एनजीओ की साझेदारी से धन उगाही करना भी इसमें शामिल है।
और अधिक जानें
आप अकेले नहीं हैं। ऐसे अन्य लोग हैं, जिनके पास ऐसे ही सवाल, चिंताएं और संदेह हैं।हेल्पलाईन्स

हमारा केंद्र-बिंदु

आज के समय में मानसिक स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं सबसे अधिक गलत समझी जाने वाली स्थितियों में से एक हैं। इनसे न सिर्फ समाज को डर लगता है, बल्कि इसके कलंक ने इन मुद्दों के बारे में ज्ञान की कमी और समझ की कमी भी पैदा की है।
द लिव लव लाफ फाउंडेशन तीन प्रकार की मानसिक स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं पर केंद्रित है:
Stress

तनाव

मधुमेह, हृदय रोग और व्यावहारिक रूप से हर मानसिक स्वास्थ्य स्थिति से जुड़े तनाव को हल्के ढंग से नहीं लिया जाना चाहिए। ज्ञान और जीवन शैली में थोड़े परिवर्तन के साथ इसमें मदद की जा सकती है।

अधिक जानिए

Anxiety

चिंता

घबराहट, डर, आशंका और परेशानियों के कारण होने वाली कई विकारों के लिए चिंता एक सामान्य शब्द है। गंभीर चिंता व्यक्ति को बहुत कमजोर बना सकती है, और दैनिक जीवन पर इसका गंभीर प्रभाव पड़ सकता है।

अधिक जानिए

Depression

अवसाद

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक अवसाद दुनिया में सबसे अधिक अक्षम विकारों में से एक के रूप में भूमिका निभाता है। फिर भी, सही जानकारी और सही कदम उठाने के साथ इसका प्रबंधन कर इलाज किया जा सकता है।
अधिक जानिए
आप अकेले नहीं हैं। ऐसे अन्य लोग हैं, जिनके पास ऐसे ही सवाल, चिंताएं और संदेह हैं।चिकित्सक को खोजें

हेल्पलाइन

इन हेल्पलाइन नंबरों को केवल रेफरल प्रयोजनों के लिए सूचीबद्ध किया गया है, और हम किसी भी हेल्पलाइन से प्राप्त होने वाली प्रतिक्रिया की गुणवत्ता और चिकित्सा सलाह के बारे में कोई सिफारिशें या गारंटी नहीं देते हैं।
iCall
022-25521111
आइकॉल, टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज (टीआईएसएस) की एक सेवा है, जिसे प्रशिक्षित मानसिक स्वास्थ्य पेशेवरों द्वारा चलाया जाता है।

सुबह 08 बजे – रात 10 बजे | सोमवार से शनिवार

ईमेल: icall@tiss.edu
Parivarthan
+91 7676 602 602
परिवर्तन, परामर्श, यह एक पंजीकृत प्रशिक्षण और अनुसंधान केंद्र एवं गैर लाभकारी सोसायटी है, जो मानसिक स्वास्थ्य के क्षेत्र में सेवाएं प्रदान करता है।

शाम 04 बजे – रात 10 PM | सोमवार से शुक्रवार

यूआरएल: www.parivarthan.org
Sahai
080 – 25497777
सहाय, मेडिको थियेटर एसोसिएशन (एमपीए) द्वारा प्रदान की जाने वाली एक सेवा है। मानसिक स्वास्थ्य के मुद्दों वाले लोगों के लिए एमपीए 51 वर्ष से मनोवैज्ञानिक सामाजिक पुनर्वास घर है।
सुबह 10 बजे – रात 08 बजे | सोमवार से शनिवार

Sumaitri
011-23389090
सुमैत्री, उदास, व्यथित और आत्महत्या के लिए प्रेरित व्यक्तियों के लिए एक संकट हस्तक्षेप केंद्र है।

दोपहर 02 बजे – रात 10 बजे | सोमवार से शुक्रवार
सुबह 10 बजे – रात 10 बजे शनिवार रविवार

Sneha
044-24640050
स्नेहा, आत्महत्या की रोकथाम करने वाली एक संस्था है, जो निराश और आत्मघाती विचार रखने वालों के लिए बिना शर्त भावनात्मक समर्थन प्रदान करती है।
24 घंटे | सोमवार से रविवार
सुबह 08 बजे – रात 10 बजे | 044-24640060
Lifeline
033-24637401
लाइफलाइन फाउंडेशन, कोलकाता में स्थित एक आत्मघाती रोकथाम एनजीओ है और पूरे शहर में विभिन्न आउटरीच कार्यक्रम आयोजित करता है।

सुबह 10 बजे – शाम 06 बजे 033-24637432

COOJ
0832-2252525
कूज, मानसिक स्वास्थ्य फाउंडेशन (सीओओजेजे), गोवा में मानसिक स्वास्थ्य को बढ़ावा देने के लिए काम करती है।

दोपहर 03 बजे – शाम 07 बजे | सोमवार से शनिवार

ई-परामर्श: Youmatterbycooj@gmail.com
Roshni
040-66202000
Roshni Trust provides free and confidential service to the depressed & the suicidal.

11 AM - 09 PM | Monday to Saturday


Phone #2: 040-66202001

दोस्तों और परिवार के लिए

तनाव, चिंता या अवसाद से गुजर रहे व्यक्ति की देखभाल के लिए आपकी ओर से बहुत समझ और प्यार की आवश्यकता है, लेकिन इससे अधिक महत्वपूर्ण है सही जानकारी। कभी-कभी, अति उत्साह और प्यार भी प्रतिकूल, दखल देने वाला और प्रतिकारक साबित हो सकता है। यह ध्यान रखना जरूरी है कि सबसे अच्छी चीज जो आप उन्हें दे सकते हैं वह है धैर्य और हालात की स्वीकार्यता।

जानें कि आप किस प्रकार की मदद से उनकी देखभाल कर सकते हैं
देखभाल प्रदान करने से पहले तैयारी करें
उनके बुरे समय को कैसे बेहतर बनाएं
Prepare before offering Care
यदि आपको पता चलता है कि कोई मित्र या परिवार के सदस्य अवसाद / तनाव / चिंता की हालत से गुजर रहा है और आपने उसे लगातार सहारा देने का फैसला किया है, तो यहां कुछ चीजें हैं, जिनकी तैयारी सहारा देने से पहले आपको करना चाहिए
Do Research

खोजबीन करें

इंटरनेट पर बहुत सारी वेबसाइटें, ब्लॉग और आलेख हैं जो आपको यह पहचानने में मदद करेंगे कि वह व्यक्ति किस बीमारी का अनुभव कर रहा है। उस व्यक्ति को प्रभावित करने वाले लक्षणों और कारणों के बारे में आप इनमें पढ़ सकते हैं।
Observe and Log

निरीक्षण करें और तय करें

व्यक्ति के व्यवहार, दैनिक दिनचर्या और गतिविधियों का निरीक्षण करें और फिर उनकी दैनिकी बना लें। यह लक्षणों, कारणों और व्यवहार के पैटर्न को पहचानने की स्पष्ट तस्वीर प्राप्त करने में आपकी सहायता करेगा, कि वास्तव में व्यक्ति किन स्थितियों से गुजर रहा है। याद रखें कि यह उसे बिना प्रकट किए और बिना दखलंदाजी के तरीके से होना चाहिए।
Therapist

एक चिकित्सक से बात करें

कभी-कभी जटिल परिस्थितियों में अलग-अलग तरह के लक्षण दिखाई देते हैं और यह पता लगाना मुश्किल हो सकता है कि वास्तव में गड़बड़ी क्या है। अक्सर, दिमाग के ऐसे लक्षण दो या दो से अधिक स्थितियों के संयोजन हो सकते हैं, उदाहरण के लिए – चिरकालिक अवसाद के साथ पोस्ट ट्रामाटिक स्ट्रेस डिसऑर्डर हो सकता है। उस व्यक्ति की देखभाल से पहले उसके व्यवहार और लक्षणों की जानकारी लेकर किसी चिकित्सक से मिलें।
Manage Time

समय और कार्य का प्रबंधन करें

यदि आपने उसकी देखभाल में सीधे शामिल होने का फैसला किया है, तो याद रखें कि आप पर भी इसका प्रतिकूल प्रभाव हो सकता है। इसलिए दो तनावपूर्ण परिस्थितियों से निपटना अच्छा नहीं हो सकता। खुद को होने वाले तनाव और उस व्यक्ति पर पूरी ऊर्जा खर्च होने से बचने के लिए एक अंशकालिक नौकरी (यदि संभव हो तो) ढूंढ लें।
Manage Finances

वित्तीय प्रबंधन करें

यदि आप ऐसे व्यक्ति की देखभाल कर रहे हैं जो इस तरह की चिंताओं से जूझ रहा है, तो आपको चिकित्सक के दौरे और दवाओं पर अतिरिक्त पैसा खर्च करना पड़ सकता है। इसलिए पहले से ही बजट पर काम करना आपके बोझ को कम करने में मदद करेगा।
हम जानते हैं कि जो व्यक्ति ज्यादातर समय निराश और उदास रह रहा हो उस व्यक्ति की देखभाल करना काफी चुनौतीभरा है। अपने आप को प्रतिभाशाली मानें क्योंकि यह एक ऐसी भूमिका है, जिसके साथ ज्यादातर लोग न्याय नहीं कर पाते। इसके लिए अत्यधिक धैर्य, समझ और इच्छाशक्ति की आवश्यकता है। यहाँ कुछ सुझाव दिए गए हैं जो इसे आपके लिए और जिस व्यक्ति की देखभाल कर रहे हैं, उसके लिए और आसान बना देंगे।

उस व्यक्ति को समझें

जिन परिस्थितियों से वह गुजर रहा है, उन्हें मात्रात्मक या वर्गीकृत नहीं किया जा सकता। परेशान होना दबाव से निपटने का आसान तरीका लग सकता है, लेकिन हमेशा याद रखना कि जिस व्यक्ति की आप देखभाल कर रहे हैं वह न तो आपकी तरह काम कर सकता है और ना ही सोच सकता है। इसलिए यदि आपने ऐसा कुछ किया या कहा जिससे आप दोनों के बीच किसी प्रकार का तनाव पैदा हुआ हो तो इसे शांत तरीके से उसे फिर से बताएं या समझाएं।
Be patient

धैर्य रखें

व्यक्ति के उलझन भरे दिमाग के बारे में सोचें, इसे ठीक करने में समय लगेगा और इसके लिए आपको बहुत धैर्य की आवश्यकता होगी। यह ऐसा कुछ नहीं है जिसे पूरी तरह आप दवा के माध्यम से ठीक किया जा सकता हो, इसके लिए थेरेपी, दवा या दोनों के संयोजन की भी आवश्यकता हो सकती है। जो भी हो, इसमें समय लगेगा।
Motivate

प्रोत्साहित करें

ऐसा व्यक्ति जो उदासीभरे जीवन का सामना कर रहा है, उसके लिए आपको उन्हें छोटी से छोटी चीज़ों के लिए लगातार प्रेरित करने की आवश्यकता होगी। रोजमर्रा की ऐसी कुछ गतिविधियां हो सकती हैं, जो वे पूरी क्षमता के साथ नहीं कर सकें या करना ही न चाहते हों, तो यह आपका प्रोत्साहन ही होगा, जो इन कार्यों को पूरा करवाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।
Have Confidence

विश्वास रखें

हो सकता है कि आप कोशिश कर रहें लेकिन तब भी वांछित परिणाम नहीं मिल रहे हों। यह आपका आत्मविश्वास तोड़ सकता है और कई बार आपको प्रयास करना छोड़ने के लिए मजबूर कर सकता है। कृपया याद रखें कि आप जिनकी देखभाल कर रहे हैं, उनके लिए यह एक कटु अनुभव हो सकता है क्योंकि वे आपकी देखभाल के कारण पहले से ही आरामदायक स्थिति में हैं। इसलिए विश्वास रखें और किसी भी चीज के लिए खुद को दोष न दें।
Time Out

विश्राम दें

लगातार उस व्यक्ति से चिपके रहने से मदद नहीं मिलती। आपको यह तय करने की आवश्यकता है कि आप उस व्यक्ति को अकेला रहने के लिए कितना समय दे रहे हैं। हालांकि, हर समय एकांत उसके लिए अच्छा नहीं हो सकता है, लेकिन कम से कम एक या दो घंटे अकेले रहना फायदेमंद हो सकता है।

FAQs

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न
मुझे लगता है कि मैं अवसादग्रस्त हूं और मुझे पता नहीं कि क्या करना है!
आंकड़े बताते हैं कि हर 5 में से 1 व्यक्ति को अपने जीवनकाल में किसी भी तरह के अवसाद का सामना करना पड़ेगा, इसलिए याद रखें कि आप अकेले नहीं हैं। आप इस बारे में किसी से बात करने के लिए हमारी हेल्पलाइन तक पहुंच सकते हैं।
हेल्पलाईन नंबर देखें
मेरा एक दोस्त / परिवार का सदस्य है जो मुझे लगता है कि अवसाद में है और / या उसमें आत्महत्या की प्रवृत्तियां हो सकती हैं।
आप सबसे अच्छे तरीके से जो सहायता कर सकते हैं वह है सहारा देना। वैकल्पिक रूप से अपने आसपास सहायता ढूंढने के लिए हमारे पेज चिकित्सक को ढूंढें पर जाएं। और अधिक सहायता के लिए हमारी वेबसाइट पर दर्ज किसी भी हेल्पलाइन नंबर तक पहुंच सकते हैं।
चिकित्सक को ढूंढें
मैं / मेरे परिवार के सदस्य कठिन दौर से गुजर रहे हैं और हम दीपिका पादुकोण को एक संदेश भेजना चाहते हैं।
मानसिक स्वास्थ्य के बारे में जागरुकता पैदा करने और मानसिक बीमारियों के लिए मदद लेने के बारे में बातचीत के बारे में वह बुनियाद रखी गई थी। हम आपको इसके लिए वेबसाइट पर सूचीबद्ध पेशेवरों तक पहुंचने के लिए प्रोत्साहित करेंगे।
चिकित्सक को ढूंढें
मैं इस अभियान का हिस्सा बनना चाहता हूं। मैं कैसे मदद कर सकता हूँ?
आपके समर्थन के लिए धन्यवाद, हम इसकी सराहना करते हैं!
  • यदि आपने इस बीमारी पर विजय पाई हैं तो हम आपकी कहानी सुनना पसंद करेंगे। आपका व्यक्तिगत विवरण गोपनीय रखा जाएगा।
  • यदि आप एक योग्य चिकित्सक हैं और अपनी सेवाओं की पेशकश करना चाहते हैं तो आप यहां स्वयं को पंजीकृत कर सकते हैं।
  • यदि आप अपने स्कूल में एक स्कूली कार्यक्रम की मेजबानी करना चाहते हैं, तो फॉर्म भरने के लिए कृपया नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें।
  • वर्तमान में हमारे पास स्वयंसेवकों का स्थान रिक्त नहीं है हालांकि, आप अपने विवरण की सूची के लिए यहां साइन अप कर सकते हैं और हम जरूरत पड़ने पर आपसे संपर्क करेंगे।/li>
अपनी कहानी साझा करें

चिकित्सक के रूप में रजिस्टर करें

स्कूल कार्यक्रम की मेजबारी करें

स्वयंसेवक के रूप में रजिस्टर करें
मैं विदेश में रहता हूं और इस फाउंडेशन के साथ भागीदारी करना चाहता हूं / मैं अपने देश में इस फाउंडेशन की एक शाखा खोलना चाहूंगा।
फिलहाल, हम इस फाउंडेशन का विस्तार नहीं कर रहे हैं। हम आपके विवरण को रिकॉर्ड में रखेंगे और यदि आवश्यक हो तो बाहर तक पहुंचेंगे। आप यहां साइन अप कर सकते हो।
स्वैच्छिक के रूप में साइन अप करें
मैं भारत से बाहर रहता हूं और दान करना चाहता हूं।
जैसा कि हम अभी तक 3 साल की अपेक्षित अवधि पूरी नहीं कर पाए हैं, हम अपना एफसीआरए लाइसेंस प्राप्त करने की प्रक्रिया में हैं, जो हमें भारत के बाहर से धन प्राप्त करने की अनुमति देता है। हालांकि हम विदेशी दान स्वीकार नहीं कर सकते हैं, लेकिन हम आपसे इस अभियान को लगातार समर्थन देने और फाउंडेशन कार्यों की उन्नति के लिए इसका अनुसरण करने का अनुरोध करते हैं
X