फ्रंटलाइन असिस्ट

इस महामारी के दौरान भारत के फ्रन्टलाइन कर्मियों को बेहद चुनौतीपूर्ण दौर से गुज़रना पड़ा है जिसका उनके मानसिक स्वास्थ्य पर गहरा असर हुआ है। लिव लव लाफ और द दीपिका पादुकोण क्लोसेट ने ‘फ्रन्टलाइन असिस्ट’ की शुरुआत की है और इस कार्यक्रम का उद्देश्य फ्रन्टलाइन कर्मियों को मुफ्त मानसिक स्वास्थ्य मुहैया कराना है।


अगर आप एक फ्रन्टलाइन कर्मी हैं और एक काउंसेलर से बात करना चाहते हैं तो संगठ कि मुफ्त हेल्पलाइन 011-41198666 पर कॉल करें (चाहे आप भारत में कहीं भी स्थित हों, हर दिन सुबह १० बजे से शाम ४ बजे तक खुली है)।

कार्यक्रम के बारे में

लिव लव लाफ और द दीपिका पादुकोण क्लोसेट मानसिक स्वास्थ्य के क्षेत्र में काम कर रही गैर लाभकारी संस्था संगठ के कोविड-१९ समर्पित कल्याण केंद्र के साथ जुड़े हैं जो फ्रन्टलाइन कर्मियों और आम जनता को कई तरह के कल्याण संबंधी सेवाएँ मुफ्त में मुहैया कराती है। कल्याण केंद्र का समर्थन द दीपिका पादुकोण क्लोसेट की बिक्री से प्राप्त धनराशि से किया जाएगा।

  • लाभार्थी
    फ्रन्टलाइन कर्मी
  • भाषाएँ
    अंग्रेज़ी, हिन्दी, मराठी, कोंकणी
  • सत्र का खर्च
    मुफ्त
  • डिलीवरी का माध्यम
    ऑनलाइन
  • भौगोलिक क्षेत्र
    भारत

मुफ्त में फोन पर काउंसेलिंग: भारत के किसी भी प्रांत से 011-41198666 पर कॉल करके फ्रन्टलाइन कर्मी सप्ताह के किसी भी दिन सुबह १० बजे से शाम ४ बजे तक काउंसेलर से बात कर सकते हैं।

लिसनिंग सर्कलों (सुनने वाले वृत्त) के माध्यम से सामुदायिक समर्थन: साप्ताहिक अनलाइन सत्र जो एक सूत्रधार द्वारा संचालित किया जाएगा और जिसमें एक साथ १० लोग भाग ले सकते हैं।

अपनी देखभाल करने के लिए मानसिक स्वास्थ्य से जुड़े संसाधन: मानसिक कल्याण की उन्नति के लिए व्यावहारिक और साक्ष्य-आधारित सुझाव और रणनीतियों के साथ-साथ उपयोगी सलाह की एक श्रृंखला यहाँ उपलब्ध है https://sangath.in/covid19/

हमारा समर्थन

वित्तीय सहयोग के माध्यम से संगत के कर्मियों के प्रशिक्षण प्रयासों का समर्थन किया जाएगा।

संचार माध्यमों में हमारी उपस्थिति यह सुनिश्चित करेगी कि इस पहल के बारे में जागरूकता बढ़े ताकि अधिक-से-अधिक फ्रन्टलाइन कर्मी इन आवश्यक मानसिक स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ उठा सकें।


हमारे मेलिंग सूची में शामिल हों

बदलाव का हिस्सा बनें

दान करें